First blog post

This is your very first post. Click the Edit link to modify or delete it, or start a new post. If you like, use this post to tell readers why you started this blog and what you plan to do with it.

post

Advertisements

Osho Hindi book

तुम धन पा लो तो और हजार चीजें हैं। तुम पद पा लो तो भी हजार चीजें हैं। तुम कुछ भी पा लो, तुम तृप्त न हो सकोगे—जब तक तुलना है, जब तक तराजू तौलता है। जिस दिन तुम कंपेरिजन छोड़ दोगे, उसी दिन तुम मुक्त हो जाओगे। जिस दिन तुम यह खयाल ही छोड़ दोगे कि दूसरे से तौलना है स्वयं को, उसी दिन दुख खो जाएगा। उस दिन तुम पाओगे कि तुम तुम हो; दूसरे दूसरे हैं; बात खतम हो गई।
एक झेन फकीर से किसी ने पूछा कि तुम्हारे जीवन में इतना आनंद क्यों है?…मेरे जीवन में क्यों नहीं? उस फकीर ने कहा: मैं अपने होने से राजी हूं और तुम अपने होने से राजी नहीं हो। फिर भी उसने कहा, कुछ तरकीब बताओ। फकीर ने कहा, तरकीब मैं कोई नहीं जानता। बाहर आओ मेरे साथ यह झाड़ छोटा है, वह झाड़ बड़ा है। मैंने कभी इन दोनों को परेशान नहीं देखा कि मैं छोटा हूं, तुम बड़े हो। कोई विवाद नहीं सुना। तीस साल में मैं यहां रहता हूं। छोटा अपने छोटे होने में खुश है, बड़ा अपने बड़े होने में खुश है; क्योंकि तुलना प्रविष्ट नहीं हुई। अभी उन्होंने तौला नहीं है।
घास का एक पत्ता भी उसी आनंद से डोलता है हवा में, जिस आनंद से कोई देवदार का बड़ा वृक्ष डोलता है। कोई भी नहीं है। घास का फूल भी उसी आनंद से खिलता है, जिस आनंद से गुलाब का फूल खिलता है। कोई भेद नहीं है।
तुम्हारे लिए भेद है। तुम कहोगे: यह घास का फूल है, और यह गुलाब का फूल। लेकिन घास और गुलाब के फूल के लिए कोई तुलना नहीं, वे दोनों अपने आनंद में मग्न हैं। जो तुलना छोड़ देता है, वह मग्न हो जाता है। जो मग्न हो जाता है, उसकी तुलना छूट जाती है।

।। जय श्री कृष्ण और सुप्रभात ।।

🌞🌞🙏🙏🌸🌸🌻🌻😃😃

🌹🌹🌹🌹🌹🌹
🌹⭕💞♓⭕🌹
*अमृत कण-२३*

मेरी दीक्षा यही है तुम्हें:

अपने आनंद से जीओ।
इतना ही पर्याप्त होगा कि
तुम किसी दुसरे के आनंद में बाधा न बनो।

इतना ही पर्याप्त होगा कि
तुम अपने आनंद का नृत्य नाचो
और अपना गीत गाओ।

शायद तुम्हारे आनंद की तरंग दूसरों को भी लग जाए और वे भी आनंदित हो जाए।
शायद थोड़ी गुलाल तुमसे उड़े और वो भी लाल हो जाए।
थोड़ा रंग तुमसे छिटके और वो भी रंग जाए।

यह दूसरी बात है।
तुमने सेवा की, ऐसा मत सोचना।
कोयल गाती है !
तुम क्या सोचते हो,
कवियों की सेवा कर रही है।
की लिखो कविताऐ।
देखो मैं गा रही हूं।
जागो कवियों।
उठाओ अपनी कलमें, लिखो कविताए !

कि पपीहा पुकारता है, कि संतो जागो!
देखो मैं पिय को पुकार रहा हूं, तुम भी पुकारो।
मैं तुम्हारी सेवा करने आ गया।

तुम इस जगत में देखते हो, कौन किसकी सेवा कर रहा है?
कोयल गीत गा रही है-अपने आनंद से।
पपीहा पुकार रहा है-रसविमुग्ध हो कर।
फूल खिले है-अपने रस से !
चांद-तारे चलते हैं अपनी ऊर्जा से।
तुम भी अपने में जीओ।

🌹🌹🌹🌹🌹🌹
🌹⭕💞♓⭕🌹

One word Substation

Fear of computers(कंप्यूटर का डर) – Cypherphobia

Fear of being locked in(लॉक होने का डर) -Chthrpphobia

Fear of money(पैसे का डर) – Chrematophobia

Fear of deep places(गहरे स्थानों का डर) – Bathophobia

Fear of needles(सुइयों का डर) – Belonephobia

Fear of book(पुस्तक का डर) – Biblanophobia

Fear of bathing (स्नान का डर) – Ablutophobia

Fear of heights(ऊँचाइयों से डर) – Acrophobia

Fear of air (हवा का डर) – Aerophobia

Fear of streets (सड़क पार करने का डर ) – Agyiophobia

Fear of pain(दर्द का डर) – Algophobia

Best food sources of vitamin B

Get all eight B vitamins from a variety of foods:

Whole grains (brown rice, barley, millet)
Meat (red meat, poultry, fish)
Eggs and dairy products (milk, cheese)
Legumes (beans, lentils)
Seeds and nuts (sunflower seeds, almonds)
Dark, leafy vegetables (broccoli, spinach, kai lan)
Fruits (citrus fruits, avocados, bananas)

राजस्थान में सर्वाधिक पुरुष साक्षरता वाले जिलों के नाम है
जितेंद्र सूत्र (भूलना भूल जाओगे)
“झुंझुनु के जैसी भारती”
सूत्र जिला
झुंझुनु – झुंझुनु
के – कोटा
जे – जयपुर
सी – सीकर
भारती – भरतपुर

पाकिस्तान की सीमा पर स्थित राजस्थान के चार जिले है
जितेंद्र सूत्र (भूलना भूल जाओगे)
आपने SBBJ (State Bank of Bikaner & jaipur) का नाम तो सुना ही होगा
यह एक बैंक का नाम है हम याद कर रहे है पाकिस्तान की सीमा वाले
जिले वह है
सूत्र जिला
S – Shree Ganganagar
B – Bikaner
B – Barmer
J – Jaisalmer